मैं आँखें अपनी पर्वत की ओर उठाऊंगा, Main Ankhe Apni Parvat Ki Or Uthaunga, Cristian Gospel Song

Praise The Lord. मैं आँखें अपनी पर्वत की ओर उठाऊंगा, Main Ankhe Apni Parvat Ki Or Uthaunga, Cristian Gospel Song

Song Info :


1 Song मैं आँखें अपनी पर्वत की ओर उठाऊंगा, Main Ankhe Apni Parvat Ki Or Uthaunga
2 Singer Vijay Benedict
3 Music -
4 Lyrics -
5 Label -


Hindi Lyrics :


मैं आँखें अपनी पर्वत की ओर उठाऊंगा --(2)
मुझको है पता सहायता वहीं से पाऊंगा --(2)

मैं आँखें अपनी पर्वत की ओर उठाऊंगा --(2)
निचे धरती ऊपर आसमां बनाया है 
परमेश्वर है वो उसके गुण गाऊंगा --(2)

1)
फिसले न कभी कदम राहों में 
इसीलिए न सोता दिन रातों में --(2)
इजराइल का है वो रखवाला 
उंघेगा न वो सोयेगा --(2)
मैं आँखें अपनी.....

2)
कष्टों से येशु मुझे बचाएगा 
रक्षक बनकर प्राण संभालेगा --(2)
बहार जाओ या अंदर आओ
वो ही हमेशा रक्षक होगा --(2)

मैं आँखें अपनी पर्वत की ओर उठाऊंगा --(2)
मुझको है पता सहायता वहीं से पाऊंगा --(2)
मैं आँखें अपनी पर्वत की ओर उठाऊंगा --(3)

Main Ankhe Apni Parvat Ki Or Uthaunga Video Song :


Lyrics :


Main ankhe apni parvat ki or uthaunga --(2)
Mujhko hai pata sahayata wahi se paunga --(2)

Main ankhe apni parvat ki or uthaunga --(2)
Niche dharti upar asma banaya hai
Parmeshwar hai wo uske gun gaunga --(2)

1)
Phisle na kabhi kadam rahon me
Isiliye na sota din raato me --(2)
Israel ka hai wo rakhwala
Unghega na wo soyega --(2)
Main ankhe apni .....

2)
Kashton se Yeshu mujhe bachayega
Rakshak bankar pran sambhalega --(2)
Bahar jao ya andar aao
Wohi hamesha rakshak hoga --(2)

Main ankhe apni parvat ki or uthaunga --(2)
Mujhko hai pata sahayata wahi se paunga --(2)
Main ankhe apni parvat ki or uthaunga --(3)

Vijay Benedict के ये गीत भी आपको पसंद आयेंगे,
Previous
Next Post »